- Advertisement -

सरकार की नई योजना महिलाओं को मिलेंगे ₹6000, (इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना)

- Advertisement -
- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel
- Advertisement -

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023(राजस्थान में इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023):राजस्थान में इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 की शुरुआत ने महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य की सुरक्षा में महत्वपूर्ण कदम उठाया है।इस योजना के माध्यम से, राजस्थान सरकार गर्भवती महिलाओं और धात्री महिलाओं के स्वास्थ्य की देखभाल को करने और कुपोषण को दूर करने के उद्देश्य के साथ योजना को शुरू की है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के प्रावधानों की पालना करना है, जिससे गर्भवती महिलाओं और धात्री महिलाओं के पोषण को सुनिश्चित किया जा सके। Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 योजना राजस्थान के कुछ जिलों में लागू है।इस योजना के अंतर्गत, गर्भवती महिलाएं और धात्री महिलाएं निशुल्क वित्तीय सहायता प्राप्त कर सकती हैं, जो उनके स्वास्थ्य और शिशु के पोषण के लिए उपयोगी होती है।राजस्थान में Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है, और इसे गर्भवती महिलाएं और धात्री महिलाएं जरूर जांचने चाहिए ताकि वे इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त कर सकें।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 राजस्थान की महिलाओं और शिशुओं के स्वास्थ्य को सुधारने का एक महत्वपूर्ण कदम है, और यह योजना राज्य के सामाजिक और आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। अगर आप भी Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के लिए अपना आवेदन करना चाहते हैं तो आज का आर्टिकल पूरा पढ़े।क्योंकि आज के आर्टिकल में हम आपको इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध करवाने वाले हैं ताकि आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सके।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के उद्देश्य

  • राजस्थान सरकार ने इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 की शुरुआत की है, जिसका उद्देश है,जो गर्भवती महिलाओं, स्तनपान करने वाली महिलाओं और 3 वर्ष तक के बच्चों के स्वास्थ्य और पोषण में सुधार करना है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि गर्भवती महिलाएं और बच्चे स्वस्थ जन्मे, और जन्म के समय कम वजन और दुर्बलता की घटनाओं को कम किया जा सके।
  • इस योजना के माध्यम से, राजस्थान सरकार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के प्रावधानों की पालना करती है, और अपने ‘सुपोषित राजस्थान विजन 2022’ के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सामाजिक और व्यवहारिक परिवर्तन को बढ़ावा देने का काम करती है। इसके माध्यम से, गर्भवती महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य को सुधारने के लिए आवश्यक सहायता प्रदान की जा रही है।
  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का शुरुआती पिलट वर्शन 2020 में चयनित जिलों में लागू हुआ था, और अप्रैल 2022 से यह पूरे राज्य में लागू हो गया है। इस योजना के अंतर्गत, गर्भवती महिलाएं हर वर्ष इसका लाभ ले सकती हैं, और दूसरी संतान के जन्म पर उन्हें 6000 रुपए की नकद सहायता प्रदान की जाती है।
Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023
Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023: की लाभ राशी

- Advertisement -

इंदिरा गांधी मातृत्व योजना 2023 के तहत राजस्थान सरकार द्वारा लाभ की राशि लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे ही ट्रांसफर कर दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा दूसरी संतान के जन्म पर लाभार्थियों को ₹6000 का नगद लाभ दिया जाएगा।यह नगद लाभ उनको 5 चरणों में दिया जाएगा।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023: के लिए निर्धारित डॉक्युमेंट

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 का लाभ उठाने के लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए:

  • ममता कार्ड की फोटो कॉपी
  • जन आधार कार्ड
  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023: के लिए आवेदन कैसे करें

  • भारत सरकार की प्रमुख मिशनों में से एक, ‘इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023’ के तहत महिलाएं अपनी गर्भावस्था और बच्चों के स्वास्थ्य को सुधारने के लिए सहायता प्राप्त कर सकती हैं। Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के अंतर्गत, आवेदकों को ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से आवेदन करने का मौका मिलता है और चयन प्रक्रिया भी ऑनलाइन होती है।
  • आवेदन करने के लिए महिलाएं अपनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता या आशा सहयोगिनी से मदद ले सकती हैं और सभी आवश्यकता से संबंधित दस्तावेज जैसे ममता कार्ड, आधार कार्ड, बैंक पासबुक की फोटो कॉपी, आदि के साथ आवेदन कर सकती हैं।
  • एक बार आवेदन स्वीकृत होने पर, योजना के अंतर्गत निर्धारित राशि का भुगतान आवश्यकता के अनुसार चरणबद्ध रूप में किया जाएगा और इस योजना के लाभार्थी को उनके व्यक्तिगत जन आधार से जुड़े बैंक खाते में नकद राशि का भुगतान किया जाएगा।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023:का लाभ इन क्षेत्र में दिया जाएगा

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 एक ऐसी योजना है जिसका उद्देश्य मातृत्व स्वास्थ्य को बेहतर बनाना और गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं को सही पोषण प्राप्त करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना।
इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का पहला चरण प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, उदयपुर, और बारां जिलों में शुरू किया गया था। इसके बाद, यह योजना 2023 में राजस्थान राज्य के सभी जिलों में फैलाई गई है।
Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के अंतर्गत, गर्भवती महिलाओं को मातृत्व स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंचने में मदद मिलती

- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel

Related post

- Advertisement -

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles