- Advertisement -

अडानी ने खरीदे अपने ही कंपनियों के शेयर और बढ़ा ली अपनी हिस्सेदारी

- Advertisement -
- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel
- Advertisement -

अडानी समूह ने शेयर बाजारों को नई सूचना देते हुए कहा कि उन्होंने अपने ही कंपनियों में हिस्सेदारी को बढ़ावा दिया है। इसी के साथ अडानी समूह ने अपनी कुछ चुनिंदा कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी को बढ़ाया है। अदानी ग्रुप की प्रमुख कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज में 2.06% को बढ़ाया है। अडानी एंटरप्राइजेज में पहले प्रमोटर्स की होल्डिंग लगभग 69.87 थी जो की अब 2.06% बढ़कर 71.93 में प्रतिशत हो गई है।

इसी के साथ अडानी समूह ने बताया कि उन्होंने अपनी दो कंपनियों में हिस्सेदारी को बढ़ाया है। पोर्ट से लेकर एनर्जी सेक्टर में कार्य करने वाली यह समूह कुछ रिपोर्ट से हुए नुकसान के बाद वापसी का प्रयास में लगी हुई है। गौतम अडानी की प्रमुख कंपनी अदानी एंटरप्राइजेज में उन्होंने लगभग अपनी 2.06% को बढ़ा लिया है। महज 1 महीने से भी कम समय में प्रमोटर्स ने अपनी होल्डिंग दूसरी बार बढ़ाई है।

पिछले ही मैं अडानी एंटरप्राइजेज के प्रमोटर्स ने अपनी होल्डिंग को बढ़ावा ही दिया था जिसमें उन्होंने 2.22% की हिस्सेदारी को बढ़ाया था। जो कि पहले 67.65% थी उसको बढ़ाकर 69.87% कर ली थी।

adani stock latest news
- Advertisement -

रिसर्जेट ट्रेड एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड ने खुले बाजार से अदानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनामिक जोन लिमिटेड में लगभग एक परसेंट की हिस्सेदारी को अपने नाम कर लिया है।

अडानी एंटरप्राइजेज में केमपास ट्रेड एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड और इंफिनिट ट्रेड एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड ने यहां पर अपनी हिस्सेदारी को बढ़ाया था।

बताई जा रहा है कि यह हिस्सेदारी 14 अगस्त से 8 सितंबर के बीच में बढ़ाई गई है। इसे कुछ सप्ताह ही पहले अमेरिका की जिक्यूजी पार्टनर्स ने अदानी ग्रुप की कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी को बढ़ाया था। इनके पास अडानी की 10 कंपनियों में से पांच की हिस्सेदारी है। अदानी पोर्ट में इन्होंने अपनी हिस्सेदारी को बढ़ाया और अब लगभग 5.03% कर ली है।

इसी के साथ इन्होंने 16 अगस्त को अडानी पॉवर लिमिटेड में 7.73% की हिस्सेदारी को खरीदा था।

- Advertisement -

24 जनवरी को हिडेनबर्ग की रिपोर्ट जारी होने के बाद अडानी समूह के शेयर गिर चुके थे जिसके बाद अब अडानी समूह के शेयर मे रिकवरी देखने को मिली है फ्रीडम वर्क की रिपोर्ट के बाद अदानी समूह की कंपनियों का बाजार पंजीकरण करीब डेढ़ सौ अरब डॉलर घट गया था।

- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel

Related post

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles