- Advertisement -

पुनर्जागरण एवं सामाजिक सुधार के प्रश्न राजस्थान द्वितीय श्रेणी परीक्षा के लिए

- Advertisement -
- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel
- Advertisement -
Table of content show

पुनर्जागरण एवं सामाजिक सुधार राजस्थान में आयोजित होने वाली सभी परीक्षाओ में जैसे Second Grade, Computer Anudeshak, Lab Assistant, REET, LDC, CTET, UPTET एवं अन्य सभी परीक्षाओ में भारत के इतिहास के पुनर्जागरण एवं सामाजिक सुधार  के अधिकतर प्रश्न पूछे जाते है. इसलिए यहाँ पर हम पुनर्जागरण एवं सामाजिक सुधार के महत्वपूर्ण प्रश्न शेयर कर रहे हैं। जो पिछली राजस्थान की परीक्षाओं में भी पूछे जा चुके है. बता दे की राजस्थान की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए भारत के इतिहास के पुनर्जागरण एवं सामाजिक सुधार  टॉपिक से आधिकतर प्रश्न हमेशा पूछे जाते हैं. इसलिए आपको इन प्रश्नों का अध्ययन करना बेहद आवश्यक हो जाता है। यह प्रश्न आपकी सफलता के लिए एक कदम हो सकता है.

(पुनर्जागरण एवं सामाजिक सुधार) Rajasthan History Top Important MCQ Questions

सती प्रथा को समाप्त कराने में किनकी महत्त्वपूर्ण भूमिका थी? [BTET Feb 2011]

  1. केशवचन्द्र सेन की
  2. राजा राममोहन राय की
  3. डी के कर्वे की
  4. ईश्वरचन्द्र विद्यासागर की

Answer-B

महिलाओं के अधिकारों के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन दिए गए अनुच्छेद के आधार पर गलत है ? CTET June 2011

  1. स्वतन्त्रता संघर्ष से जुड़ने के लिए सभी समुदायों से अनेक महिलाएँ आगे आई
  2. महिलाओं को राष्ट्रवादी नेताओं का समर्थन प्राप्त हुआ
  3. महिलाओं के लेखन को सराहा नहीं गया।
  4. अब महिलाओं ने अपने राजनीतिक अधिकारों सहित अपने अधिकारों की माँग के लिए आवाज उठाई
- Advertisement -

Answer-C

भारत के राष्ट्रीय आन्दोलन के नेताओं द्वारा प्रयुक्त रणनीति से सम्बन्धित ऊपर दिए गए अनुच्छेद के आधार पर निम्नलिखित में से कौन-सा सबसे बेहतर निष्कर्ष निकाला जा सकता है ?(CTET June 2011]

  1. स्त्रियों और पुरुषों को “लेन-देन’ की नीति का अनुपालन करने के लिए प्रोत्साहित किया गया।
  2. भारतीय महिलाएँ अपने भाषणों द्वारा अनेक लोगों को आन्दोलन में शामिल कर सकती थीं
  3. राष्ट्रवादी नेताओं ने महिलाओं को उनके अधिकार दिलवाने  के लिए समर्थन माँगा और वादा किया कि स्वतन्त्रता के बाद उन्हें वोट देने का अधिकार दिलवाएंगे
  4. स्त्रियों की भागीदारिता स्वतन्त्रता संघर्ष को और अधिक आकर्षक बनाएगी।

Answer-C

राजा राममोहन राय जैसे समाज-सुधारक स्त्रियों के विरुद्ध प्रचलित सामाजिक अन्याय (जैसे सती होना) के बारे में प्रचार-प्रसार के लिए निम्नलिखित में से किस युक्ति का प्रयोग करते थे?

  1. वे सरकार के प्रभाव का प्रयोग करते थे।
  2. अपनी सोच को सिद्ध करने के लिए प्राचीन धार्मिक पाठों में से श्लोक या वाक्य का प्रयोग करते थे
  3. वे लोकप्रिय राष्ट्रवादी नेताओं की सहायता लेते थे।
  4. वे लोकप्रिय सामाजिक वातावरण की सहायता लेते थे
- Advertisement -

Answer-B

“19 वीं शताब्दी के दौरान अधिकतर शिक्षित महिलाओं को स्कूल भेजने के बजाय उनके उदारवादी पिताओं तथा पतिया ने उन्हें घर पर पढ़ाया” निम्नलिखित में से कौन-सा कथन उपरोक्त प्रचलन का सही कारण नहीं है ?

  1. लड़कियों को घर पर पढ़ाने में पुरुषों को बहुत खुशी होती थी
  2. लडकियों को स्कूल पहुंचने के लिए सार्वजनिक स्थानों से गुजरते हुए यात्रा करनी पड़ती थी और उनकी सुरक्षा एक चिन्ता थी।
  3. उस समय इस बात का डर था कि स्कूल लड़कियों को घरेलु कार्य करने से रोकेगा।
  4. लोगों को भय था कि स्कूल लड़कियों को घर से दूर ले जाएँगे

Answer-A

19वीं शताब्दी के दौरान ज्यादातर लोगों को लगता था कि शक्षा से स्त्रियां ‘बिगड़ जाएँगी। उपरोक्त वाक्य में “बिगड़’ शब्द का सन्दर्भगत अर्थ बताने वाला निम्नलिखित में से कौन-सा कथन है?

  1. यह उन्हें और अधिक धन देगा
  2. शिक्षा के कारण उन्हें जो शक्ति मिलती उसके कारण वे अपनी पारम्परिक भूमिकाओं से दूर हो जाती 
  3. वे अपवित्र हो जाएगी 
  4. स्त्रियों पुरुषों की तुलना में ज्यादा बिगड़ी हुई थीं
- Advertisement -

Answer-B

 सती प्रथा के विरुद्ध कानून बनाने वाले गवर्नर जनरल का नाम था-

  1. लॉर्ड बैण्टिक 
  2. लॉर्ड डलहौजी 
  3. लॉर्ड रिपन 
  4. लॉर्ड कार्नवालिस

Answer-A

आर्य समाज की स्थापना किसने की थी? [UPTET Nov 2011]

  1. स्वामी दयानन्द
  2. शंकराचार्य
  3. स्वामी विवेकानन्द
  4. राजा राममोहन राय

Answer-A

 सती प्रथा व्यवस्था का सर्वप्रथम विरोध किसने किया था?

  1. महात्मा गाँधी
  2. राजा राममोहन राय
  3. अकबर
  4. पण्डित जवाहरलाल नेहरू 

Answer-C

शारदा अधिनियम के अन्तर्गत लड़कियों एवं लड़कों के विवाह की न्यूनतम आयु क्रमशः कितनी निर्धारित की गई थी?

  1. 16 वर्ष एवं 22 वर्ष
  2. 12 वर्ष एवं 16 वर्ष
  3. 14 वर्ष एवं 18 वर्ष
  4. 15 वर्ष एवं 21 वर्ष

Answer-C

वर्ष 1893 में अमेरिका के किस शहर में स्वामी विवेकानन्द ने भारत के प्रतिनिधि के रूप में विश्व धर्म संसद में प्रेरणादायक भाषण दिया?

  1. न्यूयॉर्क
  2. वाशिंगटन
  3. शिकागो
  4. कैलिफोर्निया

 Answer-B

राजस्थान भूगोल के महत्वपूर्ण प्रश्न सभी परीक्षाओ के लिए (Second Grade Special)

  ‘वेदों की ओर लौटो’ किसके द्वारा कहा गया ?

  1. विवेकानन्द
  2. रामकृष्ण परमहंस
  3.  दयानन्द सरस्वती
  4. बाल गंगाधर तिलक

Answer-C

सत्यशोधक समाज’ के संस्थापक थे- 

  1. डॉ. बी. आर अम्बेडकर
  2. नारायण गुरु
  3. ज्योतिबा फूले
  4.  दयानन्द सरस्वती

Answer-C

निम्नलिखित में से किसने कहा था कि ‘उच्च जातियों का उनकी भूमि पर कोई अधिकार नहीं है, क्योंकि वास्तव में भूमि का सम्बन्ध देशज लोगों से है अर्थात् तथाकथित निम्न जातियों से” 

  1.  घासीदास
  2. श्रीनारायण गुरु
  3. ज्योतिराव फूले 
  4. हरिदास ठाकुर

Answer-C

निम्नलिखित में से किस विदुषी ने स्त्री और पुरुष के बीच सामाजिक अन्तरों की आलोचना पर आधारित पुस्तक ‘स्त्री-पुरुष तुलना’ का लेखन किया था ? CTET Feb 2014]

  1. ताराबाई शिन्दे
  2. राससुन्दरी देवी
  3. पण्डिता रमाबाई
  4. बेगम रूकैया 

Answer-A

19 वीं सदी में निम्नलिखित में से किसने कुरान शरीफ की – आयतों को हवाला देकर महिलाओं की शिक्षा के लिए तर्क किया?

  1. रूकैया सखावत हुसैन
  2. मुमताज अली
  3. सैयद अहमद खाँ
  4. जियाउद्दीन बरनी

Answer-B

गुलामगिरी नामक पुस्तक इनमें से किसने लिखी?[CTET Feb 2016]

  1. ज्योतिराव फूले
  2. श्री नारायण गुरु
  3. डॉ. बी.आर. अम्बेड़कर
  4. ई.वी. रामास्वामी पेरियार

Answer-A

रामकृष्ण मिशन की स्थापना किसने की ?[UPTET Feb 2016]

  1. दयानन्द सरस्वती
  2. स्वामी विवेकानन्द
  3. राजा राममोहन राय
  4. दादाभाई नौरोजी

Answer-B

राजा राममोहन राय के प्रयासों से बंगाल में सती प्रथा को किस अधिनियम के अन्तर्गत निषेध घोषित किया गया ? [RTET Feb 2016]

  1. नियमन XVII AD 1829
  2. नियमन XXAD 1831
  3. नियमन XVIIIAD 1856
  4. नियमन XIXAD 1829 

Answer-A

ज्योतिराव फूले ने अपनी पुस्तक ‘गुलामगिरी को निम्नलिखित में से किन्हें समर्पित किया?’

  1. उन भारतीयों को जिन्होंने भारतीय स्वाधीनता संग्राम में भाग लिया 
  2. उन भारतीय सैनिको को जो द्वितीय विश्वयुद्ध में मरे गए थे
  3. उन अमेरिकियों को, जिन्होंने गुलामो को मुक्ति दिलाने के लिए अमेरिकी गृहयुद्ध में भाग लिया था
  4. उन महिलाओ को जिन्होंने ब्रिटेन में नारी मताधिकार आन्दोलन में भाग लिया था 

Answer-C

अगर आपको हमारे द्वारा उपलब्ध करवाए गए पुनर्जागरण एवं सामाजिक सुधार के महत्वपूर्ण प्रश्न के बारे में कोई सुझाव देना चाहते है या कोई सुधार करवाना चाहते है तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते है.

 

- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel

Related post

- Advertisement -

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles