- Advertisement -

REET Mains Exam Psychology Test Series Practice Set-1

- Advertisement -
- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel
- Advertisement -

Psychology Test Series Practice Set-1, Psychology MCQ For REET Mains Exam 2023,  मनोविज्ञान के महत्वपूर्ण प्रश्न रीट मुख्य परीक्षा 

Psychology Test Series Practice Set-1  रीट मुख्य परीक्षा में शैक्षणिक मनोविज्ञान के 20 अंको के प्रश्न पूछे जायेंगे जो की बहुत ही महत्पूर्ण अंक है. हमारे द्वारा आपको शैक्षणिक मनोविज्ञान रीट मुख्य परीक्षा के लिए कुछ अभ्यास सेट उपलब्ध करवाए जा रहे है जो रीट मुख्य परीक्षा पर आधारित होंगे. 

REET Mains Exam बोर्ड के द्वारा फ़रवरी माह में आयोजित की जाएगी ऐसे में आपको अभी से ही इसके लिए तैयारी प्रारंभ करनी होगी ताकि 46000 पदों पर भर्ती परीक्षा में आपका अच्छा स्कोर हो सके

Psychology Test Series Practice Set-1
1/15 एक पाँच साल का बच्चा यह तर्क नहीं कर पाता कि जब पानी को ऊँचे और गहरे ग्लास से चौड़े बरतन में डाला जाता है तो पानी की मात्रा उतनी ही रहती है। ऐसा इसलिए होता है कि –(a) वह प्रतीक नहीं बना पाता।(b) यह अनुकरण नहीं कर पाता।(c) वह वैपर्पयी चिन्तन नहीं कर सकता।(d) उसका व्यवहार उद्देश्योन्मुखी नहीं होता।2/15 संतुलन बनाए रखने के लिए ‘स्कीमाओं को समायोजित करने, हटाने और नए स्कीमा बनाने की प्रक्रिया को कहा जाता है(a) निकटतम विकास का क्षेत्र(b) आधारभूत सहायता(c) अनुकूलन(d) स्कीमा निर्माण3/15 निजी भाषा’ शब्दावली का प्रयोग पहली बार …….. द्वारा किया गया।(a) कोहलबर्ग(b) वाइगोत्स्की(c) एरिक्सन(d) पियाजे


4/15 वाइगोत्स्की के अनुसार, बच्चे अपने समवयस्कों के साथ ……….. करके बहुत कुछ सीखते हैं।(a) मारपीट(b) अनुकरण(c) अंतःक्रिया(d) प्रतियोगिता5/15 कोहलबर्ग के नैतिक विकास के विचार के स्तर हैं:34286/15 एक बच्चे की भाषा के विकास में दूसरों के साथ सम्प्रेषण एक महत्त्वपूर्ण कारक है।” यह कथन है –(a) बंडूरा का(b) वाइगोत्स्की का(c) कोहलवर्ग का(d) फ्रायड का


7/15 लेव वाइगोत्स्की के अनुसार संहानात्मक विकास का मूल कारण है –(a) मानसिक प्रारूपों (स्कीमाज) का समावेशन(b) उद्दीपक-अनुक्रिया युन्मन(c) संतुलन(d) सामाजिक अन्योन्यक्रिया8/15 किसी बच्चे का दिया गया विशिष्ट उत्तर कोलबर्ग के नैतिक तर्क के सोपानों की विषयवस्तु के किस सोपान के अंतर्गत आएगा? “यदि आप ईमानदार हैं, तो आपके माता-पिता आप पर गर्व करेंगे। इसलिए आपको ईमानदार रहना चाहिए।”(a) अच्छी लड़की – अच्छा लड़का अनुकूलन(b) कानून और व्यवस्था अनुकूलन(c) दंड – आज्ञाकारिता अनुकूलन(d) सामाजिक संकुचन अनुकूलन9/15 जीन पियाजे के अनुसार अधिगम के लिए निम्नलिखित में से क्या आवश्यक है ?(a) ईश्वरीय न्याय पर विश्वास(b) शिक्षकों और माता-पिता द्वारा पुनर्वतन(c) शिक्षार्थी के द्वारा पर्यावरण की सक्रिय खोजबीन(d) वयस्कों के व्यवहार का अवलोकन


10/15 वाइगोत्स्की के समाज संरचना सिद्धांत में दृढ़ विश्वास रखने वाले शिक्षक के नाते आप अपने बच्चों के आकलन के लिए निम्नलिखित में से किस विधि को वरीयता देंगे है?(a) तथ्यों पर आधारित प्रत्यास्मरण के प्रश्न(b) वस्तुपरक बहुविकल्पी प्रकार के प्रश्न(c) सहयोगी प्रोजेक्ट(d) मानकीकृत परीक्षण11/15 निम्नलिखित में से कौन-सा कथन पियाजे के सिद्धांत के अनुसार कहा नहीं जा सकता ?(a) बच्चे अपने पर्यावरण पर क्रिया करते हैं।(b) विकास गुणात्मक चरणों में होता है।(c) बच्चे अपनी दुनिया के बारे में ज्ञान का निर्माण और उपयोग करते हैं।(d) निरंतर अभ्यास से अधिगम होता है।12/15 निम्नलिखित में से कौन-सी पूर्व संक्रियात्मक विचार की एक सीमा नहीं है?(a) अनुत्क्रमणियता(b) ध्यान केंद्रित करने की प्रवृत्ति(c) प्रतीकात्मक विचार का विकास(d) अंहमन्यता


13/15 कोहलबर्ग के सिद्धांत के योगदान के रूप में निम्नलिखित में से किसे माना जा सकता है?(a) उनका विश्वास है कि बच्चे नैतिक दार्शनिक हैं।(b) उनके सिद्धांत ने संज्ञानात्मक परिपक्वता और नैतिक परिपक्वता के बीच एक सहयोग का समर्थन किया है।(c) इस सिद्धात में विस्तृत परीक्षण प्रक्रियाएँ हैं।(d) यह नैतिक तर्क और कार्रवाई के बीच एक स्पष्ट संबंध स्थापित करता है।14/15 निकटवर्ती विकास का क्षेत्र संदर्भित करता है –(a) उस सीखने के बिंदु को, जब सहयोग वापस लिया जा सकता है।(b) उस चरण को, जब अधिकतम विकास संभव है(c) उस विकासात्मक चरण को, जब बच्चा सीखने की पूरी जिम्मेदारी लेता है(d) एक संदर्भ को, जिसमें बच्चे सहयोग के सही स्तर के साथ कोई कार्य लगभग स्वयं कर सकते हैं15/15 पियाजे के अनुसार निम्नलिखित में से कौन-सी अवस्था है जिसमें बच्चा अमूर्त संकल्पनाओं के विषय में तार्किक चिंतन करना आरंभ करता है ?(a) मूर्त-संक्रियात्मक अवस्था (07-11 वर्ष)(b) औपचारिक संक्रियात्मक अवस्था ( 11 वर्ष एवं ऊपर)(c) संवेदी – प्रेरक अवस्था (जन्म से 02 वर्ष)(d) पूर्व-संक्रियात्मक अवस्था (02-07 वर्ष)


Result:

- Advertisement -

Psychology Test Series Practice Set-1 के बारे में आप कोई सुझाव देना चाहते हैं को आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं.

- Advertisement -
Whatsapp Group
Whatsapp Channel
Telegram channel

Related post

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles